4 मार्च को है महाशिवरात्रि, जानिए इस बार क्यों बेहद खास है भगवान शिव का ये दिन


भगवान शिव के भक्त शिवरात्रि (Shivratri) के पर्व को बड़ी ही धूमधाम से मनाते हैं. इस बार भी भक्तों की तैयारी ज़ोरों पर है. 4 मार्च के दिन पड़ने वाली इस महाशिवरात्रि (Maha Shivratri 2019) की तैयारियां अभी से चल रही हैं. शिव मंदिरों में पंडाल लगाए जा रहे हैं, बेल पत्थरों और भांग से बाज़ार सज चुके हैं. वहीं, प्रयागराज में चल रहे कुंभ (Kumbh 2019) में भी इस दिन होने वाले आखिरी शाही स्नान के लिए भक्तों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई है.

इस बार की महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) सोमवार के दिन है, जिस वजह से यह और भी खास मानी जा रही है. बता दें, सोमवार को भगवान शिव (Lord Shiva) का दिन माना जाता है क्योंकि इसका संबंध उनके सिर पर विराजमान चंद्रमा से है, इसी वजह से उन्हें सोमनाथ (Somnath) भी कहते हैं.

जानिए क्यों वैलेंटाइन्स डे के दिन ही मनाया जाता है मातृ-पितृ पूजन दिवस?

भगवान शिव शरीर पर क्यों लगाते हैं भस्म?

महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त
4 मार्च को पड़ने वाली इस महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त:-
शुभ मुहूर्त शुरू – शाम 04:28, 4 मार्च 2019
शुभ मुहूर्त समाप्त – 07:07, 5 मार्च 2019

शिवरात्रि और महाशिवरात्रि में फर्क?
हर महीने कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी के दिन आने वाली शिवरात्रि को सिर्फ शिवरात्रि कहा जाता है. लेकिन फाल्गुन मास की कृष्ण चतुर्दशी के दिन आने वाले शिवरात्रि को महाशिवरात्रि कहा जाता है. इसे कुछ लोग सबसे बड़ी शिवरात्रि के नाम से भी जानते हैं. साल में होने वाली 12 शिवरात्रियों में से महाशिवरात्रि सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती है.

nomortogelku.xyz Nomor Togel Hari Ini

टिप्पणियाँ